Sunday, 24 February 2019, 2:48 AM

न काहू से बैर

पूरे कुएं में भांग....जो भी देखो नशे में है

Updated on 9 May, 2017, 11:26
राघवेंद्र सिंह न काहू से बैर मध्यप्रदेश से लेकर पूरे देश में अजीबो-गरीब हालात हैैं। सीमा पर जवानों के बदले दस और पचास सिर का दावा करने वाली भाजपा सरकार में आने के बाद दस सिर तो क्या दुश्मन के नाखून तक नहीं ला पाई है। मनोहर पर्रीकर के गोवा सीएम बनने... आगे पढ़े

तू काम मत कर केवल काम का जिक्र कर

Updated on 21 April, 2017, 9:43
राघवेंद्र सिंह सियासत और सरकार का चोली-दामन का साथ है। दोनों की खूबियां और खामियां भी टक्कर की हैैं। लंबे समय तक जब लीडर या पार्टियां हुकूमत में रहती हैैं तो दोनों एक जैसे ही हो जाते हैैं। उनका मिजाज, सोच और काम करने का अंदाज सब कुछ। जनता कार्यकर्ताओं के... आगे पढ़े

सिंहस्थ के बाद नमामि देवी नर्मदे

Updated on 28 March, 2017, 19:43
राघवेंद्र सिंह मध्यप्रदेश में देश के साथ दुनिया में मशहूर होना का सिलसिला लगता है आदत में शुमार हो गया है। सिहंस्थ के बाद नर्मदा सेवा यात्रा इसकी मिसाल है। कल तक का बीमारू राज्य अब विश्व स्तरीय कामों के लिये जाना जाये तो किसी को हैरत नहीं होनी चाहिये। इसके... आगे पढ़े

कुछ तो शर्म करिए...ऐसे कौन करता है भाई...?

Updated on 27 February, 2017, 10:22
राघवेंद्र सिंह दो दिन पहले की बात है। पुणे के पहले टेस्ट मैच में नंबर वन रेंक वाली टीम इंडिया आस्ट्रेलिया से खेलते हुये औैंधे मुंह जा गिरी। स्पिन होती पिच भारत के अनुकूल और 333 रन से हराया आस्ट्रेलिया ने। इस शर्मनाक पराजय से पूरे देश से दुख-नाराजगी की प्रतिक्रियाएं ... आगे पढ़े

नेताओं को गप्प पसंद है...

Updated on 12 February, 2017, 18:38
राघवेंद्र सिंह / नया इंडिया सियासी दस्तूर सा बन गया है आसमानी, सुल्तानी बातें करने और आकाश से चांद तारे लाने के वादों को। चुनाव के वक्त ये बातें गप्पों में तब्दील होने लगती हैं। जैसा चुनाव और जितनी विशाल सभा, बातें, वादे और गप्पें भी उसी अनुपात में। लोकसभा चुनाव... आगे पढ़े

पैसा खुदा तो नहीं....पर खुदा से कम भी नहीं.....

Updated on 16 January, 2017, 10:33
राघवेंद्र सिंह मध्यप्रदेश में कटनी पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के तबादले के बाद यह शेर खूब चल रहा है कि - पैसा खुदा तो नहीं लेकिन खुदा की कसम खुदा से कम भी नहीं। वैसे यह बात छत्तीसगढ़ के केंद्रीय मंत्री रहे दिवगंत नेता ने रिश्वत में पैसे लेते समय कही... आगे पढ़े

सरकार.... कड़वे फैसले की दरकार

Updated on 2 January, 2017, 15:41
नये साल का नमस्कार..... मीन, मेख और नुक्ताचीनी के लिये पूरा साल है। सब कुछ सुधरे और शुभ-शुभ होता हुआ लगे इसके लिये स्वयं से लेकर देश-दुनिया में कड़वे फैसले की दरकार है। इस मामले में पिछले साल 8/11 के मोदी सरकार के नोटबंदी निर्णय को मिसाल के तौर पर... आगे पढ़े

नोटबंदी से काले धन की नसबंदी

Updated on 5 December, 2016, 21:34
राघवेंद्र सिंह ये न पूछ शिकायतें कितनी है तुझ से तू बता तेरा कोई सितम बाकी तो नहीं... प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इन दिनों सब नाराज हैैं। हजार पांच सौ के नोट बंद होने के बाद अपने पराये सब कोस रहे हैैं। मगर खास लोगों को छोड़ दें तो देश के मेंगो पीपुल्स... आगे पढ़े

मोदी मारे और रोने भी न दे…

Updated on 18 November, 2016, 9:02
भोपाल।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र दामोदर मोदी इन दिनों खासे फार्म में हैं। काला धन,नकली नोट एक हजार और पांच सौ के नोट बंद करने के मास्टर स्ट्रोक से सब सनाके में हैं। सीमा पार सर्जिकल स्ट्राइक के बाद नोट बंदी और फिर जापान दौरे में परमाणु संधि यह सब ऐसा है... आगे पढ़े

सिमी आतंकी भाग जाते तो क्या होता?

Updated on 6 November, 2016, 23:48
राघवेंद्र सिंह न काहू से बैर आतंक के आरोपी हैं तो जेल तोड़ेंगे ही….भोपाल जेल से पहले खंडवा जेल तोड़कर भी भागे थे। हत्याएं भी कर चुके थे। आगे सुधरने के बजाये बम विस्फोट और हत्या करने की धमकी देते थे। इनकाउंटर में मारे गये आठों सिमी से सदस्यों के बारे में... आगे पढ़े

मप्र में सब उम्मीदों के आसमान पर

Updated on 25 October, 2016, 21:18
न काहू से बैर - राघवेंद्र सिंह मध्यप्रदेश में कई वर्षों के बाद हालात कुछ ऐसे बन रहे हैं कि हर कोई उम्मीदों के आसमान पर पंख लगाए उड़ रहा है, खासकर सियासी हलकों में। इंदौर की चौथी इन्वेस्टर्स समिट (मध्यप्रदेश में 5वीं) की सफलता को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान... आगे पढ़े

आईने में खड़ा शख्स परेशान है बहुत...

Updated on 19 October, 2016, 10:31
नया इंडिया / न काहू से बैर मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस एक ही नाव पर सवार हैं। दोनों ही दलों के नेतृत्व नोंकदार सवालों का सामना कर रहे हैं। भाजपा में चुभने वाले प्रश्नों की कम संख्या होने से अनुशासनहीनता और कांग्रेस में इसे आंतरिक लोकतंत्र कहा जाता है। बशर्ते... आगे पढ़े

मुंह ढंक कर कौन सोता है

Updated on 10 October, 2016, 10:25
यह सियासत है और डूब कर जाना है न काहू से बैर राघवेंद्र सिंह मध्यप्रदेश में 13 साल से भाजपा की सरकार और 11 साल से शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री हैैं।  उनकी टीम में 80 फीसद से ज्यादा मंत्री 10 साल से बने हुये हैैं। राज्य में लगातार तीन बार सरकार बनाने का... आगे पढ़े

अब शिव से तांडव की दरकार

Updated on 4 October, 2016, 8:31
शिव से सर्जिकल स्ट्राइक की दरकार राघवेंद्र सिंह न काहू से बैर म.प्र. में नौकरशाही अड़ंगे लगाती है। डंडे लेकर निकलने की चेतावनी के बाद हालात बेकाबू हैैं। दस साल बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह  चौहान  अफसरों से पूछ रहे हैैं कहां है सिंगल विंडो... ये हाल है सरकार और नाकरशाही के। आखिर कौन... आगे पढ़े

डोंट डिस्टर्ब अभी सरकार सो रही है...!

Updated on 4 October, 2016, 8:30
भोपाल। नया इंडिया /न काहू से बैर/ भाषण, नारे, जुमले अभी जारी हैं। जमीनी हकीकत को जानने के बाद आखें मूंदने का दौर अभी जारी है….इसलिए अभी डोंट डिस्टर्ब। बकौल नेताजी अभी तो मुर्दों में जान फूंकने, जीतने के लिए उप चुनाव में एलान करने, जरूरतमंदों को भरोसा देने का... आगे पढ़े