Saturday, April 20th, 2024

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई में जमाएं बर्तन, नहीं तो बढ़ सकते हैं कष्ट

रसोई घर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। कहते हैं यहां देवी अन्नपूर्णा के साथ माता लक्ष्मी का भी वास होता है, इसलिए किचन को हमेशा साफ सुथरा रखना चाहिए जिससे आपके जीवन में सुख समृद्धि बनी रहे। इसके अलावा रसोई की चीजों के रख रखाव का भी आपको पूरा ध्यान रखना चाहिए। वास्तु शास्त्र के अनुसार बर्तन हो या कोई दूसरी चीज, सबका अपना एक स्थान और रखने का सही तरीका होता है। यदि इसमें गलती होती है तो वास्तु दोष पैदा होता है जो आपके जीवन को कष्टों से भर सकता है।

आज यहां हम आपको चकला और बेलन के बारे में बताएंगे। जी हां चकला बेलन से भी आपका भाग्य तय होता है। वास्तु के जानकारों के अनुसार इसे खरीदने और रखने के लिए भी कुछ नियम होते हैं।

इस दिन खरीदें चकला और बेलन
इसे खरीदने के लिए बुधवार का दिन सबसे शुभ होता है। अगर लकड़ी का चकला खरीदना है तो इसके गुरुवार का दिन भी अच्छा होता है। भूलकर भी मंगलवार और शनिवार के दिन चकला बेलन न खरीदें। इससे आपके जीवन में नकारात्मकता आ सकती है।

रोटी बनाते समय रखें इस बात का ध्यान
जब भी आप रोटी बनाएं तो चकले और बेलन से आवाज नहीं आनी चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि चकला स्लैब पर स्थिर रहे। यदि रोटी बनाते समय आवाज आती है तो इससे घरेलू कलह बढ़ता है और धन हानि भी होती है।

गंदा चकला बेलन न रखें
रोटियां बनाने के बाद आप चकले और बेलन को अच्छी तरह से धोकर सुखा लें ताकि उसमें नमी न रहे। गंदे चकले बेलन से वास्तु दोष पैदा होता है।

यहां न रखें
चकले और बेलन को आटे या किसी भी अनाज के डिब्बे के ऊपर न रखें। ऐसा करने से घर में दरिद्रता आती है।

ऐसे न रखें चकला और बेलन
कभी भी चकले और बेलन को उल्टा रखने की गलती न करें। यह भी एक वास्तु दोष होता है।

लकड़ी का चकला होता है शुभ
अगर आप पत्थर की जगह लकड़ी का चकला बेलन खरीदतीं है तो यह ज्यादा अच्छा होगा। हालांकि इसकी साफ सफाई का आपको अधिक ध्यान रखना होगा। लकड़ी के अलावा स्टील का चकला भी शुभ माना जाता है।

टूटा चकला बेलन
यदि आपका चकला या बेलन टूटा है तो उसे तुरंत बाहर फेंक दें। टूटे चकले बेलन को घर में रखने से आपकी किस्मत भी आपसे रूठ सकती है।

Source : Agency

आपकी राय

6 + 14 =

पाठको की राय