Saturday, April 20th, 2024

गाजा के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से आठ मरीजों की मौत

यूरोपीय संघ के 26 देशों ने गाजा में तत्काल मानवीय विराम की मांग की

EU सदस्य देशों ने गाजा पट्टी में तत्काल मानवीय विराम का आह्वान

गाजा के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से आठ मरीजों की मौत

ब्रुसेल्स
 यूरोपीय संघ (ईयू) के 26 सदस्य देशों ने गाजा पट्टी में तत्काल मानवीय विराम का आह्वान किया है, जिससे स्थायी युद्धविराम हो सके। यह जानकारी ब्लॉक के विदेश नीति प्रमुख जोसेप बोरेल ने  दी।

यूरोपीय संघ के विदेश मंत्रियों की एक बैठक में, हंगरी को छोड़कर सभी यूरोपीय संघ के देशों ने इजरायल को दक्षिणी गाजा शहर राफा पर हमला करने के खिलाफ चेतावनी दी, उन्होंने कहा कि इससे शहर में 15 लाख शरणार्थियों पर संकट गहरा हो जाएगा।

आयरलैंड के विदेश मंत्री माइकल मार्टिन ने बैठक से पहले कहा कि राफा पर हमला विनाशकारी होगा और यह अनुचित होगा। राफा शहर पर हमला करने की इजरायल की कथित योजनाओं से अंतरराष्ट्रीय खतरे की घंटी बज गई है, कई देशों ने इजरायल से संयम बरतने या अभियान को रद्द करने का आग्रह किया है।

गाजा के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से आठ मरीजों की मौत

गाजा
 दक्षिणी गाजा के खान यूनिस शहर के एक प्रमुख अस्पताल में इजरायल की ओर से किए जा रहे लगातार हमलों के कारण कई दिनों तक बिजली गुल होने और ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित होने के कारण आठ मरीजों की मौत हो गई।
यह जानकारी फ़िलिस्तीन की स्वास्थ्य मंत्री माई अल-कैला ने  दी।
सुअल-कैला ने कहा कि इजरायली हमले के कारण नासिर अस्पताल में उपचार करवा रहे अन्य रोगियों के जीवन पर खतरा उत्पन्न हो गया है। उन्होंने बिस्तर पर पड़े मरीजों और चिकित्सा कर्मचारियों की रिहाई के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रयासों का आह्वान किया और दावा किया कि इजरायली सैन्य ट्रकों द्वारा उन्हें अस्पताल से अज्ञात स्थान पर ले जाया गया है।

गाजा में हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले कहा था कि इजरायली बलों ने गुरुवार को दक्षिणी गाजा पट्टी के खान यूनिस शहर में नासिर अस्पताल की दक्षिणी दीवार को ध्वस्त करने के बाद उस पर धावा बोल दिया।

उधर, इजरायल रक्षा बल (आईडीएफ) ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर रविवार को कहा कि उसने इजरायली सुरक्षा एजेंसी बलों के साथ एक संयुक्त अभियान में सैकड़ों आतंकवादियों और अन्य संदिग्धों को गिरफ्तार किया है, जो अस्पताल में छिपे हुए थे और कुछ चिकित्सा कर्मचारी के रूप में काम कर रहे थे।

आईडीएफ ने कहा कि अस्पताल में बड़ी मात्रा में हथियार और एक इजरायली सीमा किबुत्ज़ से संबंधित एक वाहन पाया गया। साथ ही इजरायली बंधकों को सौंपी जाने वाली दवाएं भी मिलीं। आईडीएफ ने हमास पर अस्पताल में मरीजों को मानव ढाल के रूप में उपयोग करने का आरोप लगाया।

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इजरायली सेना ने नासिर मेडिकल कॉम्प्लेक्स को सैन्य बैरक में तब्दील कर दिया है, जिससे अंदर के मरीजों और चिकित्सा कर्मचारियों का जीवन खतरे में है।
मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि 25 चिकित्साकर्मी और 136 मरीज अभी भी अस्पताल में बिजली, पानी, भोजन, ऑक्सीजन या अन्य आवश्यक सामानों के लिए संघर्ष कर रहे हैं।
विश्व स्वास्थ्य संगठन शेष रोगियों को अन्य अस्पतालों में भेजने की कोशिश कर रहा है, लेकिन इजरायली सेना अभी भी परिसर में चिकित्सा और मानवीय सहायता के प्रवेश में बाधा उत्पन्न कर रही है।

हाउती समूह ने अदन की खाड़ी में अमेरिका के दो जहाजों पर किया हमला

सना
यमन के हाउती समूह ने अदन की खाड़ी में अमेरिका के जहाजों पर मिसाइल से हमला करने की घोषणा की है। समूह के सैटेलाइट टीवी चैनल अल-मसीरा द्वारा प्रसारित बयान में हाउती के सैन्य प्रवक्ता याह्या सरिया ने नुकसान या हताहतों की संख्या नहीं बतायी है, लेकिन उन्होंने कहा कि अमेरिकी जहाजों, सी चैंपियन और नेविस फोर्टुना को निशाना बनाकर हमले किए गए हैं।
उन्होंने कहा कि इन हमलों के बाद पिछले 24 घंटों के दौरान हाउती के अभियानों की कुल संख्या चार हो गई है। सबसे पहले एक ब्रिटिश जहाज को निशाना बनाया गया, जिसके कारण वह पूरी तरह डूब गया। दूसरे अभियान में होदेइदा गवर्नरेट के हवाई क्षेत्र में एक अमेरिकी एमक्यू9 ड्रोन को मार गिराया औक अब दो हमलों में दो अमेरिकी जहाजों को निशाना बनाया गया।
हाउती सैन्य प्रवक्ता ने कहा, “लाल सागर और अरब सागर में हमारा अभियान जारी रहेगा और तब तक नहीं रुकेगा, जब तक इजरायल के हमास के खिलाफ हमले बंद नहीं हो जाते और गाजा पट्टी में फिलिस्तीनी लोगों पर घेराबंदी नहीं हटा ली जाती।”
उधर, अमेरिका के सेंट्रल कमांड ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा कि ब्रिटिश मालवाहक जहाज उत्तरी यमन में हाउती के नियंत्रण वाले क्षेत्रों से दागी गई दो बैलिस्टिक मिसाइलों से नष्ट हो गया है।
अमेरिकी सेंट्रल कमांड ने कहा, '18 फरवरी को रात 9:30 से 10:45 बजे के बीच दो एंटी-शिप बैलिस्टिक मिसाइलें यमन के ईरानी समर्थित हाउती आतंकवादी-नियंत्रित क्षेत्रों से बेलीज-ध्वजांकित, ब्रिटेन के स्वामित्व वाले थोक वाहक एमवी रूबीमार की ओर दागी गयीं।' गौरतलब है कि शनिवार को अमेरिकी सेंट्रल कमांड ने हाउती के हमलों को रोकने के लिए आत्मरक्षा में पांच सफल हमले किए।

 

 

Source : Agency

आपकी राय

11 + 5 =

पाठको की राय