Saturday, April 20th, 2024

जर्मनी के रियल हीरो रहे एंड्रियास ब्रेहेम का निधन

नई दिल्ली
1990 वर्ल्ड कप फाइनल में अर्जेंटीना के खिलाफ वेस्ट जर्मनी के रियल हीरो रहे एंड्रियास ब्रेहेम का निधन हो गया है। 63 साल की उम्र में जर्मनी के लीजेंड एंड्रियास ब्रेहमे ने दुनिया को अलविदा कह दिया। ब्रेहमे की पार्टनर सुजैन शेफर ने मंगलवार (20 फरवरी) को जर्मनी की डीपीए समाचार एजेंसी को दिए बयान में उनके निधन की पुष्टि की। बताया जा रहा है कि ब्रेहमे कार्डियक अरेस्ट आने के बाद दुनिया को अलविदा कह गए।

63 साल की उम्र में Andreas Brehme का हुआ निधन
दरअसल, जर्मनी टीम के पूर्व फुटबॉलर एंड्रियास ब्रेहमे (Andreas Brehme Death) के पूर्व क्लब बार्यन म्यूनिख ने उनके निधन की खबर के बाद उन्हें श्रद्धांजलि दी। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर करते हुए क्लब ने कहा कि FC Bayern उनके निधन की खबर से हैरान है। एंड्रियास ब्रेहमे हमेशा ही हमारे दिल में रहेंगे। एक विश्व चैंपियन होने और एक स्पेशल इंसान होने के नाते हम उन्हें कभी नहीं भूल पाएंगे।

बता दें कि ब्रेहमे 1980 और 1990 के दशक में जर्मनी के दिग्गज खिलाड़ियों में से एक थे, जिन्होंने 1990 में जर्मनी को विश्व चैंपियन बनाने में अहम रोल निभाया था। ब्रेहमे ने अपने देश के लिए 86 बार खेलते हुए, 8 बार गोल दागा, जिसमें से सबसे ज्यादा फेमस उनका 85मिनट पेनल्टी गोल रहा, जो ओलंपिक स्टेडियम में अर्जेंटीना के खिलाफ रहा था। वेस्ट जर्मनी को उन्होंने इस गोल के सहारे ही तीसरा विश्व कप जिताया था।
 
इस कड़ी में कैसरस्लॉटर्न ने भी पूर्व फुटबॉलर ब्रेहमे को श्रद्धांजलि दी और सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि उन्होंने कुल 10 सालों तक रेड डेविल्स की शर्ट पहनी और एफसीके के साथ जर्मन चैंपियन और जर्मन कप जीता। 1990 में उन्होंने अपनी पेनल्टी से जर्मन टीम को विश्व कप जिताया और फुटबॉल के दिग्गज बन गए। एफसीके परिवार को उनके निधन की खबर से गहरा सदमा लगा है।

Source : Agency

आपकी राय

8 + 1 =

पाठको की राय