Saturday, April 20th, 2024

इस बार का हिंदू नववर्ष सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग में शुरू हो रहा

हिंदू नववर्ष का प्रारंभ चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से होती है. उस दिन से चैत्र नवरात्रि का भी प्रारंभ होता है. इस बार का हिंदू नववर्ष सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग में शुरू हो रहा है. उस दिन कलश स्थापना के साथ ही पहली नवदुर्गा मां शैत्रपुत्री की भी पूजा होगी.  हिंदू नववर्ष यानी विक्रम संवत का प्रारंभ सम्राट चंद्रगुप्त विक्रमादित्य ने कराया था. विक्रम संवत या हिंदी कैलेंडर की गणना चंद्र पर आधारित होती है. उसमें दो पक्ष होते हैं, एक कृष्ण पक्ष और दूसरा शुक्ल पक्ष. 15 दिनों के एक पक्ष होते हैं. प्रतिपदा से अमावस्या तक कृष्ण पक्ष और प्रतिपदा से पूर्णिमा तक शुक्ल पक्ष होता है. हिंदी कैलेंडर में 12 माह होते हैं. हर 3 साल पर एक अधिक माह इसमें जुड़ जाता है, उसे मलमास या अधिकमास कहते हैं. आइए जानते हैं कि हिंदू नववर्ष 2024 कब से शुरू हो रहा है? हिंदी कैलेंडर के 12 महीनों के नाम क्या हैं?

कब से शुरू हो रहा हिंदू नववर्ष 2024?

हिंदू कैलेंडर के अनुसार, इस साल चैत्र शुक्ल प्रतिपदा तिथि का प्रारंभ 8 अप्रैल दिन सोमवार को रात 11 बजकर 50 मिनट से होगा. प्रतिपदा तिथि 9 अप्रैल दिन मंगलवार को रात 08 बजकर 30 मिनट तक है. ऐसे में उदयातिथि के आधार पर चैत्र शुक्ल प्रतिपदा 9 अप्रैल मंगलवार को है. इस वजह से हिंदू नववर्ष 2024 9 अप्रैल से शुरू होगा.


हिंदू नववर्ष 2024 होगा विक्रम संवत 2081

पंचांग के अनुसार, आने वाला नया हिंदू नववर्ष विक्रम संवत 2081 होगा. उसे विक्रम सम्वत 2081 पिङ्गल के नाम से जाना जाएगा. शक संवत के आधार पर यह शक संवत 1946 क्रोधी है.

सर्वार्थ सिद्धि योग में प्रारंभ होगा हिंदू नववर्ष 2024

9 अप्रैल को हिंदू नववर्ष के पहले दिन सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग बन रहा है. उस दिन रेवती और अश्विनी नक्षत्र है. उस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग प्रात: 07:32 एएम से अगले दिन 10 अप्रैल को प्रात: 05:06 एएम तक रहेगा.


हिंदू नववर्ष के प्रथम ​दिन वैधृति योग सुबह से दोपहर 02:18 पीएम तक है, उसके बाद विष्कम्भ योग होगा. रेवती नक्षत्र प्रात:काल से 07:32 एएम तक है, उसके बाद से अश्विनी नक्षत्र है, जो 10 अप्रैल को प्रात: 05:06 एएत तक है. उस दिन चन्द्र राशि मीन होगी, तो सुबह 07:32 एएम तक रहेगी. फिर चंद्रमा का प्रवेश मेष राशि में हो जाएगा.
हिंदी कैलेंडर के 12 महीनों के नाम

हिंदू नववर्ष का पहला महीना चैत्र होता है. हिंदी कैलेंडर चैत्र माह से शुरू होकर फाल्गुन माह तक चलता है. इसमें 12 माह आते हैं.
1. चैत्र
2. वैशाख
3. ज्येष्ठ
4. आषाढ़
5. सावन या श्रावण
6. भादो या भाद्रपद
7. आश्विन या क्वार
8. कार्तिक
9. अगहन या मार्गशीर्ष
10. पौष
11. माघ
12. फाल्गुन

Source : Agency

आपकी राय

4 + 3 =

पाठको की राय