Saturday, April 20th, 2024

50 हजार के लोन के लिए किसी भी सरकारी बैंक में आवेदन करे, बिना गारण्टी के पाए

नईदिल्ली
देश में कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार ने एक योजना की शुरुआत की थी, जो अब काफी पॉपुलर है. क्योंकि इस योजना के तहत 50 हजार रुपये तक बिना गारंटी के लोन मिलता है. ये स्कीम खासकर उन लोगों के लिए है, जो छोटे-मोटे रोजगार करते हैं, लेकिन किसी कारणवश वो अपना कारोबार दोबारा शुरू नहीं कर पा रहे हैं, या फिर नए सिरे से कोई छोटा बिजनेस करना चाहते हैं. इस सरकारी योजना का नाम पीएम स्वनिधि योजना (PM Svanidhi Yojana) है.

ये स्कीम खासतौर पर रेहड़ी-पटरी वालों के लिए है, जिनका रोजगार कोरोना महामारी के दौरान बुरी तरह से चौपट हो गया था. ऐसे लोगों की मदद के लिए सरकार ने पीएम स्वनिधि योजना की शुरुआत की गई. लेकिन योजना की सफलता को देखते हुए सरकार ने इसका दायरा बढ़ा दिया है. इस स्कीम के तहत सरकार रोजगार की शुरुआत के लिए बिना किसी गारंटी के लोन दे रही है.

रेहड़ी-पटरी वालों को मिलता है लोन
सरकार पीएम स्वनिधि योजना (PM Svanidhi Yojana) के तहत रेहड़ी-पटरी वालों को फिर से अपना काम शुरू करने के लिए लोन मुहैया कराती है. इस योजना का लाभ सब्जी बेचने वाले, फल बेचने वाले और फास्ट फूड की छोटी दुकान लगाने वाले लोग ले सकते हैं.

50 हजार तक का ले सकते हैं लोन
केंद्र सरकार पीएम स्वनिधि योजना के तहत 50 हजार रुपये तक का लोन उपलब्ध कराती है. लेकिन 50 हजार रुपये के लोन लेने के लिए अपनी क्रेडिबिलिटी बनानी होगी. इसलिए किसी को भी इस स्कीम के तहत पहले 10 हजार रुपये का लोन मिलेगा. एक बार लोन चुकाने के बाद दूसरी बार डबल राशि कर्ज के रूप में लिया जा सकता है.

कैसे मिलेगा 50 हजार का लोन?
अब मान लीजिए कि किसी को बाजार में सड़क के किनारे चाट की दुकान लगानी है. इसके लिए उसने स्वनिधि योजना के तहत 10 हजार रुपये का लोन लिया. फिर उसने कर्ज की रकम को समय पर चुका दिया. ऐसे में वो शख्स दूसरी बार इस स्कीम के तहत 20 हजार रुपये का लोन ले सकता है. इसी तरह तीसरी बार में वो 50 हजार रुपये के लोन के लिए योग्य हो जाएगा. इस स्कीम की खास बात ये है कि लोन पर सरकार सब्सिडी भी प्रदान करती है.

किसी गारंटी की जरूरत नहीं
इस स्कीम के तहत लोन लेने के लिए किसी भी तरह की गारंटी की जरूरत नहीं पड़ती है. आवदेन मंजूर होने के बाद लोन की रकम तीन बार में आपके खाते में ट्रांसफर कर दी जाती है. रेहड़ी-पटरी वालों के लिए कैश-बैक सहित डिजिटल भुगतान को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने इस स्कीम का बजट बढ़ाया था.

आवेदन के लिए आधार कार्ड जरूरी
पीएम स्वनिधि योजना के तहत ली गई लोन की राशि को एक साल की अवधि में चुकाया जा सकता है. हर महीने किश्तों में लोन की राशि को चुका सकते हैं. पीएम स्वनिधि योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड होना जरूरी है. पीएम स्वनिधि योजना के तहत लोन लेने के लिए किसी भी सरकारी बैंक में आवेदन किया जा सकता है.

 

Source : Agency

आपकी राय

3 + 3 =

पाठको की राय